राजू श्रीवास्तव एक कॉमेडियन और अभिनेता थे |

उनका असली नाम सत्य प्रकाश श्रीवास्तव था।

उनका असली नाम सत्य प्रकाश श्रीवास्तव था।

उनका जन्म 25 दिसंबर 1963 को कानपुर, यूपी, भारत में हुआ था।

उनका जन्म 25 दिसंबर 1963 को कानपुर, यूपी, भारत में हुआ था।

 वह 2005 में कॉमेडी शो, द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज में दूसरे रनर-अप थे।

 वह 2005 में कॉमेडी शो, द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज में दूसरे रनर-अप थे।

उनके 'गजोधर' किरदार को काफी सराहा गया था।

उनके 'गजोधर' किरदार को काफी सराहा गया था।

उन्हें 1988 में फिल्म तेजाब में एक छोटी सी भूमिका से बड़े पर्दे पर अपनी शुरुवात की थी।

राजू ने मैंने प्यार किया, बाजीगार, मिस्टर आजाद जैसी फिल्मों में काम किया।

वह रियलिटी शो बिग बॉस 3 का भी हिस्सा रह चुके हैं।

वह रियलिटी शो बिग बॉस 3 का भी हिस्सा रह चुके हैं।

 राजू ने अपनी पत्नी के साथ नच बलिए सीजन 6 में भी भाग लिया था।

श्रीवास्तव की नेटवर्थ इनकम टीवी शो से होती थी और सेकेंडरी इनकम फिल्मों, वर्ल्ड टूर, कॉमेडी शो, अवॉर्ड होस्ट, टीवी ऐड्स और अन्य माध्यमों से होती थी। राजू श्रीवास्तव की नेटवर्थ लगभग 1-3 मिलियन थी।

 राजू श्रीवास्तव देश के सबसे बड़े और प्रसिद्ध कॉमेडियन में से एक थे।

उन्होंने फिल्म टॉयलेट: एक प्रेम कथा और बिग ब्रदर में भी काम किया था।

कॉमेडी का महा मुकाबला, कॉमेडी सर्कस जैसे शो में भी भाग लिया था।

राजू कॉमेडी नाइट्स विद कपिल और द कपिल शर्मा शो का भी हिस्सा थे।

उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा देते हुए देखा जाता था।

उन्हें अमिताभ बच्चन की मिमिक्री करने के लिए पहचाना जाता था।

उनकी पसंदीदा अभिनेत्री माधुरी दीक्षित थीं।

कॉमेडियन को जिम में एक्सरसाइज करते समय हार्ट अटैक आया और यह हार्ट अटैक उनकी मौत की वजह बन गया।

ट्रेडमिल पर दौड़ते समय वह बेहोश हो गए और उसके बाद से श्रीवास्तव 10 अगस्त से वेंटिलेटर पर हैं। एंजियोप्लास्टी प्रक्रिया होने के बावजूद श्रीवास्तव की स्वास्थ्य स्थिति उस दिन से अपरिवर्तित रही। 

अस्पताल सूत्रों के अनुसार, राजू श्रीवास्तव को सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर मृत घोषित कर दिया गया था।

दिल्ली के एम्स में 42 दिनों तक जिंदगी की जंग लड़ने के बाद बुधवार 21 सितंबर की सुबह उनका निधन हो गया। राजू श्रीवास्तव को 10 अगस्त को दिल का दौरा पड़ने के बाद एम्स में भर्ती कराया गया था। इसके बाद से वह कोमा में थे और आईसीयू में वेंटिलेटर पर थे। हालांकि, बीच-बीच में उसके शरीर में कई बार हरकत हुई, लेकिन वह होश में नहीं आ सके।